/
/
/
/
/
/
/
/

प्रकृति संरक्षण को समर्पित एकमात्र पत्रिका आम आदमी की भाषा में
शख्सियत / साक्षात्कार
रायपुर कचरा मुक्ति अभियान
(01-11-2014)

रायपुर शहर के नागरिक बंधुओ, भाईयो, बहनों, 

आज पूरा रायपुर शहर कचरे का, कूड़े का ढेर बन गया है। ऐसी कोई भी गली नहीं है जहां पर प्लास्टिक, पेपर और सड़ी-गली सब्जियाॅं, गंदगी का अंबार न लगा हो। ऐसी एक भी नाली नहीं है जिसके अंदर में प्लास्टिक कचरों ने नाली को जाम नहीं कर दिया हो। कितने दुर्भाग्य की बात है कि पढ़े-लिखे लोगों के शहर में जो सबसे हरित राज्य की राजधानी है, वहां अपार गंदगी फैली हुई है और हम सब लोग सरकार को गाली दे रहे हैं, नेताओं को गाली दे रहे हैं, अधिकारियों को गाली दे रहे हैं। इसे सुधार करने की कुछ भी पहल अपनी तरफ से नहीं कर रहे हैं।  मुझे देखकर बहुत दुख होता है कि क्यों हम लोग यह नहीं समझने की कोशिश कर रहे हैं कि इस गंदगी से जो भी बुरा असर पड़ रहा है, वह हमारे जीवन पर पड़ रहा है, हमारे बच्चों के जीवन पर पड़ रहा है। आने वाली पीढ़ी पर पड़ रहा है। हमारे बुजुर्गों पर, महिलाओं पर पड़ रहा है, तो क्या हमारा यह कर्तव्य नहीं है कि हम इसे ठीक करें। क्या हम खुद से पहल नहीं कर सकते हैं, जिससे कि यह ठीक हो सके। क्या आपको लगता है कि यह इतनी बड़ी समस्या है, जिसको कि हम नागरिक बंधु मिलकर ठीक नहीं कर सकते? यह सब हमारी छोटी-छोटी गलतियों के कारण में, हमारी लापरवाही के कारण में, हमारे आलस्य के कारण में, उत्पन्न अव्यवस्था, यह हमारे आलस्य का एकत्रित एक विशाल भंडार है। यह हमारे चरित्र एवं लापरवाही का एक प्रत्यक्ष प्रमाण है। हम लाखों-करोड़ों रूपया खर्च करते हैं, दुनिया भर के अन्य कामों में, धार्मिक कामों में, सामाजिक कामों में, परिवार के कामों में, राजनैतिक कामों में। पर क्या हम कुछ समय, कुछ रूपया हमारे आसपास के परिवेश को गंदगी मुक्त करने हेतु नहीं कर सकते? और, यदि हम नहीं कर सकते तो फिर हमें किसी को भी दोष देने, गाली देने का अधिकार नहीं है। हमें स्वच्छ एवं साफ नगर में जीने का भी अधिकार नहीं है। माननीय उच्चतम न्यायालय ने ‘‘पालूटर टू पे’’ सिद्धांत को स्पष्ट स्वीकृति दिया है। अर्थात हम जो पालूशन घरेलू कचरों से भी फैला रहे हैं, तो भी उसको ठीक करने की लागत का भुगतान हमको ही करना होगा। जब अगर वह स्थिति बनेगी, तब आपको समझ में आएगा कि कितना पैसा आपके सिर पर टैक्स के रूप में या बोझ के रूप में आने वाला है। इससे पहले कि ये हालात और बिगड़े और हमारे बच्चों, माता-पिता, वृद्धों को बीमारी के रूप में पीड़ित करे, आईए, हम लोग मिलकर  कुछ ठोस निराकरण के लिए आगे बढ़ें। मुझे पूरा विश्वास है कि अगर इस शहर के 5 प्रतिशत लोग भी इस समस्या से निपटने के लिए संकल्पबद्ध हो जाएंगे, तो जितना पैसा नगर निगम ने ‘‘किवार कम्पनी’’ को देने के लिए निर्णय लिया है, उससे आधे पैसे में इस शहर को हम एकदम कचरा मुक्त, हरा-भरा, सुंदर और स्वस्थ बना सकें। यह शहर हमारा है, हमें यहीं जीना है, यहीं मरना है, इसलिए हम लोगों को इन समस्याओं की अनदेखी नहीं करना चाहिए। इसलिए हम एक ‘‘सिटिजन एक्शन प्लान’’ (citizen action plan,)  के नाम से अभियान शुरू कर रहे हैं। इस अभियान की विस्तृत रूपरेखा कुछ दिनों में प्रस्तुत की जावेगी, जिससे कि नगर 100 प्रतिशत कचरों से मुक्त होगा। हमें विश्वास है कि हमें आपका तन, मन, धन और समय से समर्थन मिलेगा। हम आपसे निवेदन करते हैं कि आप आगे आइए और हमारा साथ दीजिए।

जो भी लोग हमारे इस अभियान को समर्थन देना चाहते हों, वे अपना नाम, मोबाइल नं., ईमेल आईडी नीचे लिखे गए मोबाइल या दिए गए ईमेल या डाक पते पर भेजें। अपना समर्थन आप हमें वाट्सएप (9301193396) पर भी भेज सकते हैं।

ललित कुमार सिंघानिया, संपादक-पर्यावरण ऊर्जा टाइम्स, प्रकाशक: एनवायरमेंट एनर्जी फाउंडेशन (बिना लाभ के उद्देश्य से गठित एन.जी.ओ.), 205, समता कालोनी, रायपुर (छत्तीसगढ़) फोन: 0771-4266037, 9301193396, ईमेल: put.times@gmail.com

लेख पर अपने विचार लिखें ( 0 )                                                                                                                                                                     
 

भारत के समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय की पंजीयन संख्या( आर. एन. आर्इ. नं.) : 7087498, डाक पंजीयन : छ.ग./ रायपुर संभाग / 26 / 2012-14
संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, संयुक्त संपादक - रविन्द्र गिन्नौरे, सह संपादक - उत्तम सिंह गहरवार, सलाहकार - डा. सुरेन्द्र पाठक, महाप्रबंधक - राजकुमार शुक्ला, विज्ञापन एवं प्रसार - देवराज सिंह चौहान, लेआउट एवं डिजाइनिंग -उत्तम सिंह गहरवार, विकाष ठाकुर
स्वामित्व, मुद्रक एवं प्रकाषक : एनवायरमेंट एनर्जी फाउडेषन, 28 कालेज रोड, चौबे कालोनी, रायपुर (छ.ग.) के स्वामित्व में प्रकाषित, महावीर आफसेट प्रिंटर्स, रायपुर से मुदि्रत, संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, 205, समता कालोनी, रायपुर रायपुर (छ.ग.)

COPYRIGHT © BY PARYAVARAN URJA TIMES
DEVELOPED BY CREATIVE IT MEDIA