/
/
/
/
/
/
/
/

प्रकृति संरक्षण को समर्पित एकमात्र पत्रिका आम आदमी की भाषा में
स्वास्थ्य
Search By Month & Year:-
रस, रसायन का इस्तेमाल क्यों जरूरी?

01-01-2015

आयुर्वेद मतानुसार रस, रसायन का उपयोग समय-समय पर करते रहना चाहिए। रसायन शरीर को बलिष्ठ बनाते हैं, रोगों से लड़ने की शक्ति देते हैं, वहीं आयु में वृद्धि कर निरोगी जीवन को सार्थक करते हैं। प्राचीन भारतीय सिद्धांत को अपनाकर वृद्धावस्था में स्वस्थ जीवन जिया जा सकता है।

आयुर्वेद के आठ अंगों में रसायन तंत्र एक महत्वपूर्ण शास्त्र है। संहिताकारों ने ‘‘अथता दीर्घ जीवतीयं अध्यायं व्याख्यास्यामः’’ का उल्लेख करते हुए आरोग्य जीवन, हितायु एवं लम्बी आयु (दीर...

पूरा पढ़ें


जिंदगी से मिठास छीनता डायबिटीज

01-11-2014

जिन लोगों को डायबिटीज हो जाती है, उन्हें हमेशा डर बना रहता है कि अब जिंदगी में मिठास नहीं है, जबकि हकीकत तो यह है कि डायबिटीज का होना आपको जीवन के प्रति सचेत कर रहा है कि आप अब तक केयरलैस जीवन जी रहे हैं। अब बारी है जागरूकता के साथ जीने की। 

डायबिटीज मात्र इंसुलिन हार्मोन की कमी के कारण पैदा हुआ रोग है। इंसुलिन का निर्माण शरीर की पेन्क्रियाज ग्रंथि द्वारा किया जाता है। हम जो भोजन करते हैं, वह शरीर में विभिन्न प्रक्रियाओं से गुजरने के बाद ग्लूकोज में बदल जा...

पूरा पढ़ें


स्मार्टफोन से डायबिटीज पर नियंत्रण

01-11-2014

एड डामिआनो एक जैव चिकित्सा इंजीनियर हैं। उनका बेटा जब 11 माह का था, तब पता चला कि उसे टाइप-1 डायबिटीज है। उन्होंने तय किया कि वे एक ऐसा यंत्र बनाएंगे तो उनके बच्चे और उस जैसे अनेक बच्चों के लिए मददगार हो। ऐसी सोच के साथ वे अपने लक्ष्य के बहुत नजदीक हैं।

बचपन से शुरूआत

टाइप-1 डायबिटीज तब होता है, जब पैंक्रियाज की बीटा आइलेट कोशिकाएॅं मरने लगती हैं। ये कोशिकाएॅं रक्त में ग्लूकोज की मात्रा पर निगाह रखती हैं। यही कोशिकाएॅं इंसुलिन का स्राव करती हैं और खून में ...

पूरा पढ़ें


भरपूर ताकत देता है कैल्शियम

01-11-2014

हमारे विविधता से भरा भोजन से कैल्शियम का नहीं मिलना स्वास्थ्य के लिए घातक हो रहा है। कैल्शियम शरीर को ताकत देता है, वहीं अनेक रोगों से हमें बचाता है। हम कैल्शियम की कमी को कैसे पूरा कर सकते हैं, इस पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

मैग्नीशियम: शरीर में कैल्शियम को अवशोषित करने  और संरक्षित रखने में सहायक होता है। 

विटामिन डी: सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व जो शरीर में कैल्शियम को अवशोषित करने और खून में नियंत्रित करने में मदद करता है।

विटामिन के: शरीर ...

पूरा पढ़ें


नकारात्मक सोच बढ़ते रोग

01-10-2014

आजकल की जिंदगी में हताशा, नकारात्मक सोच आम बात हो गई है। जीवनशैली और खानपान में बदलाव का असर भी पड़ रहा है। इस कारण घटनाएॅं बढ़ी हैं। लोगों में हिंसा प्रवृत्ति भी बढ़ रही है। खासकर बच्चे आक्रामक बन रहे हैं, जो एक चिंता का विषय है। स्वस्थ जीवन में हास्य जरूरी है, जो गायब होता जा रहा है। हमारी नकारात्मक सोच से कई बीमारियां भी पनप रही है। ऐसे ही अनेक शोध हुए हैं, जो हमारी जीवनशैली पर प्रश्न चिन्ह लगाते हैं। 

प्रोटीन के खतरे

नए शोध से पता चला है कि मीट और पनीर का...

पूरा पढ़ें


1 2 3 4    NEXT  Total Number Of Pages is:4
 

भारत के समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय की पंजीयन संख्या( आर. एन. आर्इ. नं.) : 7087498, डाक पंजीयन : छ.ग./ रायपुर संभाग / 26 / 2012-14
संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, संयुक्त संपादक - रविन्द्र गिन्नौरे, सह संपादक - उत्तम सिंह गहरवार, सलाहकार - डा. सुरेन्द्र पाठक, महाप्रबंधक - राजकुमार शुक्ला, विज्ञापन एवं प्रसार - देवराज सिंह चौहान, लेआउट एवं डिजाइनिंग -उत्तम सिंह गहरवार, विकाष ठाकुर
स्वामित्व, मुद्रक एवं प्रकाषक : एनवायरमेंट एनर्जी फाउडेषन, 28 कालेज रोड, चौबे कालोनी, रायपुर (छ.ग.) के स्वामित्व में प्रकाषित, महावीर आफसेट प्रिंटर्स, रायपुर से मुदि्रत, संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, 205, समता कालोनी, रायपुर रायपुर (छ.ग.)

COPYRIGHT © BY PARYAVARAN URJA TIMES
DEVELOPED BY CREATIVE IT MEDIA