/
/
/
/
/
/
/
/

प्रकृति संरक्षण को समर्पित एकमात्र पत्रिका आम आदमी की भाषा में
पड़ताल
Search By Month & Year:-
भारत में बिकेगी बोतलबंद हवा

01-10-2017

देश के महानगरों में तेज़ी से बढ़ते प्रदूषण से लोगों को भले ही स्वास्थ्य की दृष्टि से हानि उठानी पड़ रही हो, लेकिन कनाडा की एक कंपनी ने इससे भी चांदी काटने का ज़रिया ढूंढ लिया है। स्टार्टअप के रूप में शुरू हुई वाइटेलिटी एयर कंपनी जल्दी ही भारत में बोतलबंद शुद्ध हवा बेचना शुरू करने वाली है। इस महीने के अंत में वह दिल्ली के बाज़ार में हवा की बोतलें उपलब्ध करा देगी। यह हवा 3 और 8 लीटर की बोतलों में उपलब्ध होगी। इनकी कीमत क्रमश: 1450 रुपए और 2800 रुपए होगी। बताया जा रहा है कि इस...

पूरा पढ़ें


बर्तनों का इस्तेमाल कई बीमारियों की वजह

01-08-2015

फिट रहने की चाहत में लोग हर वो चीज अपना रहे हैं, जिनसे सेहत को थोड़ा-बहुत भी फायदा होता हो। जागिंग, वाकिंग, एक्सरसाइज और योग लोगों की लाइफस्टाइल का जरूरी हिस्सा बन चुका है, लेकिन फिर भी लोग बीमार हो ही रहे हैं। हर कोई इस सवाल का जवाब जानना चाहता है कि आखिर इतनी मेहनत के बाद भी रिजल्ट पाजिटिव क्यों नहीं मिल रहा। आज इसका जवाब जानेंगे। सिर्फ हेल्दी खाना ही जरूरी नहीं, उसे हेल्दी बनाना भी उतना ही जरूरी होता है। इस पर ज्यादातर लोग ध्यान नहीं दे रहे हैं। खाना पकाने के ब...

पूरा पढ़ें


मां के दूध में पहुॅंचा कीटनाशक

01-08-2015

क्या नवजात बच्चों के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद माने जाने वाला मां का दूध भी अब सुरक्षित नहीं रहा? एक रिपोर्ट में मां के दूध में कीटनाशक के अंश मिलने की बात सामने आई है। सिरसा में एक किलो दूध में 0.12 मिलीग्राम पेस्टिसाइड की मात्रा मिली, जो वर्ल्ड हेल्थ आर्गनाइजेशन द्वारा तयशुदा मात्रा से 100 गुना ज्यादा है। रिपोर्ट के मुताबिक, अगर सरकार ने खाने-पीने की चीजों में हानिकारक कीटनाशकों का इस्तेमाल नहीं रोका तो आने वाले वक्त में इसका बुरा प्रभाव नवजातों पर पड़ सकता है...

पूरा पढ़ें


अफीमची तोता और पर्यावरण

01-06-2015

अफीम की खेती जहाॅं होती है, उसके फलों को खाते हुए तोते अफीम के लती हो जाते हैं। फसल कटने के साथ तोते बड़ी संख्या में मरते हैं, जिन्हें कौवे खाकर शिकार बन जाते हैं। अफीम की खेती से तोते की बलि चढ़ जाती है। किसानों को इस कारण क्षति पहुॅंचती है। इससे प्राकृतिक खाद्य श्रृंखला का संतुलन बिगड़ता है।
मनुष्य का अफीम की आदत का शिकार हो जाना और उसका लती बन जाना आम बात है, पर तोते भी अफीम के लती होते हैं, यह समाचार चैंकाने वाला है। अफीम के इस हानिकारक प्रभाव के विषय में जानन...

पूरा पढ़ें


मोटे लोग खाएं अपाच्य स्टार्च भोजन

01-06-2015

भोजन में अपाच्य स्टार्च की मात्रा अधिक हो तो मोटापे को रोकने के लिए कारगर सिद्ध होते हैं। मोटापे से परेशान लोगों को ऐसा भोजन करना चाहिए, जिसमें अपाच्य स्टार्च की अधिकता हो, जिसे भरपेट तो खाया जा सकता है, मगर उससे अपेक्षाकृत कम ऊर्जा मिलेगी। ऐसी स्थिति में मोटापे पर रोक लगाने के लिए यह कारगर साबित होगा।
आमतौर पर कहा जाता है कि सुपाच्य भोजन का सेवन करना चाहिए, क्योंकि वही स्वास्थ्यप्रद है। मगर अचरज की बात है कि हाल के वर्षों में भोजन के अपाच्य हिस्सों पर काफ...

पूरा पढ़ें


1 2 3 4 5 6    NEXT  Total Number Of Pages is:6
 

भारत के समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय की पंजीयन संख्या( आर. एन. आर्इ. नं.) : 7087498, डाक पंजीयन : छ.ग./ रायपुर संभाग / 26 / 2012-14
संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, संयुक्त संपादक - रविन्द्र गिन्नौरे, सह संपादक - उत्तम सिंह गहरवार, सलाहकार - डा. सुरेन्द्र पाठक, महाप्रबंधक - राजकुमार शुक्ला, विज्ञापन एवं प्रसार - देवराज सिंह चौहान, लेआउट एवं डिजाइनिंग -उत्तम सिंह गहरवार, विकाष ठाकुर
स्वामित्व, मुद्रक एवं प्रकाषक : एनवायरमेंट एनर्जी फाउडेषन, 28 कालेज रोड, चौबे कालोनी, रायपुर (छ.ग.) के स्वामित्व में प्रकाषित, महावीर आफसेट प्रिंटर्स, रायपुर से मुदि्रत, संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, 205, समता कालोनी, रायपुर रायपुर (छ.ग.)

COPYRIGHT © BY PARYAVARAN URJA TIMES
DEVELOPED BY CREATIVE IT MEDIA