/
/
/
/
/
/
/
/

प्रकृति संरक्षण को समर्पित एकमात्र पत्रिका आम आदमी की भाषा में
शख्सियत / साक्षात्कार
Search By Month & Year:-
स्वच्छता से बनेगा सशक्त भारत

01-11-2014

21वीं सदी में जहां एक ओर आर्थिक सम्पन्नता के लिए होड़ मची है, वहीं दूसरी ओर गंदगी का अंबार लगता जा रहा है। घर-परिवार से लेकर मुहल्ले में हमारे अपने कार्यस्थलों पर गंदगी पसरी पड़ी है। साफ-सफाई हजार रोगों की एक दवा है। लेकिन इसके ठीक विपरीत जैसे-जैसे हम सभ्य हुए, हम कचरा ज्यादा फैलाने लगे। गंदगी का आलम इतना गहरा गया है कि बरसात में शहरों की नालियां सड़कों में बहने लगती हैं। शहरी कचरा आज एक भयावह समस्या बनता जा रहा है।

गांधी और स्वच्छता

महात्मा गांधी ने साफ-सुथ...

पूरा पढ़ें


रायपुर कचरा मुक्ति अभियान

01-11-2014

रायपुर शहर के नागरिक बंधुओ, भाईयो, बहनों, 

आज पूरा रायपुर शहर कचरे का, कूड़े का ढेर बन गया है। ऐसी कोई भी गली नहीं है जहां पर प्लास्टिक, पेपर और सड़ी-गली सब्जियाॅं, गंदगी का अंबार न लगा हो। ऐसी एक भी नाली नहीं है जिसके अंदर में प्लास्टिक कचरों ने नाली को जाम नहीं कर दिया हो। कितने दुर्भाग्य की बात है कि पढ़े-लिखे लोगों के शहर में जो सबसे हरित राज्य की राजधानी है, वहां अपार गंदगी फैली हुई है और हम सब लोग सरकार को गाली दे रहे हैं, नेताओं को गाली दे रहे हैं, अधिकारियों ...

पूरा पढ़ें


तारों के सपने होंगे साकार

01-11-2014

लोग सदा से आकाश पर नजरें लगाए रहे हैं, तारों को निहारते आए हैं। वे सदा यह जानने को उत्सुक रहे हैं कि धरती से दूर अंतरिक्ष के उस अथाह गर्भ में क्या है। अब तो अंतरिक्ष उड़ानें एक आम बात हो गई हैं, उनकी खबरों की ओर भी हर कोई ध्यान नहीं देता। 

अंतरिक्ष में भारत

भारत के पहले अंतरिक्ष यात्री राकेश शर्मा की उड़ान के बाद पूरे 28 साल बीत गए हैं। वह अंतरिक्ष उड़ान भरने वाले 138वें व्यक्ति थे। सात दिन इक्कीस घंटे और इकतालीस मिनट उन्होंने अंतरिक्ष में बिताए। वहाँ से उन्ह...

पूरा पढ़ें


संसद भवन मेरी प्रयोगशाला: मेघनाद साहा

01-07-2014

1951-52 में लोकसभा के प्रथम चुनाव में वैज्ञानिक मेघनाद साहा निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में उतरे थे। उन्होंने उत्तर-पश्चिम कलकत्ता से नामांकन पर्चा भरा। यह वही कलीकत्ता है, जो उन दिनों कई वैज्ञानिकों की कर्मभूमि रहा है। वे यहाॅं से भारी मतों से विजयी हुए। उनके निर्वाचित होने पर वैज्ञानिकों सहित सभी को अत्यधिक आश्चर्य हुआ। मेघनाद साहा मूलतः वैज्ञानिक थे और उनकी राष्ट्रीय तथा अंतर्राष्ट्रीय जगत में ख्याति भौतिकीविद के रूप में थी। उनकी जीत पर ...

पूरा पढ़ें


भ्रष्टाचार: भारत को वैज्ञानिक शक्ति नहीं बनने देगा

01-05-2014

रामाकृष्णन का जन्म तमिलनाडु के चिदंबरम में हुआ था। उन्होंने बड़ौदा विश्वविद्यालय और फिर ओहायो, कैलिफोर्निया और सैन डियागो के विश्वविद्यालयों में पढ़ाई की। उन्हें 2010 में पद्म विभूषण की उपाधि से भी सम्मानित किया गया था

हाल ही में लंदन में हुए एशियाई पुरस्कार कार्यक्रम में मेरा जाना हुआ। समारोह देर तक चला, रात के करीब 11 बज चुके थे और मैंने निकलने के लिए अपना सामान बाँध लिया था। लेकिन तभी मेरी नजर कोने में गेरुए रंग का कुर्ता पहने चश्मे वाले एक व्यक्ति पर गई...

पूरा पढ़ें


1 2    NEXT  Total Number Of Pages is:2
 

भारत के समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय की पंजीयन संख्या( आर. एन. आर्इ. नं.) : 7087498, डाक पंजीयन : छ.ग./ रायपुर संभाग / 26 / 2012-14
संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, संयुक्त संपादक - रविन्द्र गिन्नौरे, सह संपादक - उत्तम सिंह गहरवार, सलाहकार - डा. सुरेन्द्र पाठक, महाप्रबंधक - राजकुमार शुक्ला, विज्ञापन एवं प्रसार - देवराज सिंह चौहान, लेआउट एवं डिजाइनिंग -उत्तम सिंह गहरवार, विकाष ठाकुर
स्वामित्व, मुद्रक एवं प्रकाषक : एनवायरमेंट एनर्जी फाउडेषन, 28 कालेज रोड, चौबे कालोनी, रायपुर (छ.ग.) के स्वामित्व में प्रकाषित, महावीर आफसेट प्रिंटर्स, रायपुर से मुदि्रत, संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, 205, समता कालोनी, रायपुर रायपुर (छ.ग.)

COPYRIGHT © BY PARYAVARAN URJA TIMES
DEVELOPED BY CREATIVE IT MEDIA