/
/
/
/
/
/
/
/

प्रकृति संरक्षण को समर्पित एकमात्र पत्रिका आम आदमी की भाषा में
कैंसर के विरूद्ध युद्ध
Search By Month & Year:-
स्वर्णाभूषण का कहर-शरीर के लिए जहर?

01-01-2015

अध्ययन के आधार पर वर्तमान में स्वर्ण आभूषणों में बढ़ रहे कैडमियम की मात्रा चिंताजनक परिस्थितियों का संकेत देती है। भारत सरकार से तथा अंतर्राष्ट्रीय संस्थानों से अपेक्षा है कि स्वर्णाभूषणों में प्रयुक्त होने वाले भारी धातु यथा कैडमियम एवं अन्य धातुओं का मानव स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभाव पर तत्काल अध्ययन किया जावे।

सभ्यता में निरंतर हो रहे परिवर्तन एवं लोगों में आ रही समृद्धि के साथ जीवनशैली में भी तेजी से परिवर्तन आ रहा है। नित्य नए-नए उप...

पूरा पढ़ें


मुख कैंसर की भयावह स्थिति

01-09-2014

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्री एस. गांधी सेल्वन ने 2014 में संसद में तंबाकू के सेवन से मरने वालों का जो आंकड़ा पेश किया, वह बेहद चैंकाने वाला है। उन्होंने बताया कि दुनियाभर में हर साल तंबाकू की वजह से 50 लाख लोग अपनी जिंदगी से हाथ धो बैठते हैं तंबाकू से होने वाली बीमारियों के संदर्भ में डेंटल कालेज इंदौर में पदस्थ वरिष्ठ प्रोफेसर डाॅ. सुरेन्द्र दिल्लीवाल से एक साक्षात्कार में विस्तार से चर्चा हुई।

हाल ही में चार देशों की यात्रा से लौटे डाॅ. दिल्लीवा...

पूरा पढ़ें


सोयाबीन से कैंसर विशेषज्ञों की खामोशी?

01-09-2014

सोयाबीन को कोई जादुई अन्न समझ कर अंधविश्वास में उठाए जा रहे सरकारी कदम इस देश को गहरे संकट की ओर ले जा रहे हैं, जिसकी कल्पना भी करना असम्भ्व है। दुख का विषय यह है कि इस ओर ध्यान आकर्षित करने के बाद भी सरकारी वैज्ञानिक इस सच को स्वीकार करने की बात तो दूर उसको सुनने और समझने को भी तैयार नहीं हैं। 

पोषक नहीं रोगजनक

आज देश में सोयाबीन के साथ यही हो रहा है। हमारे वैज्ञानिक न जाने क्यों सोयाबीन को ऐसा अनाज बताने में लगे हैं, जो देश की कुपोषण से लेकर सारी समस्या...

पूरा पढ़ें


कैसे फैलता है प्रोस्टेट कैंसर

01-08-2014

प्रोस्टेट कैंसर फैलने के कई कारण हैं। लेकिन शुरूआती अवस्था में प्रोस्टेट कैंसर के फैलने का कारण आनुवंशिक होता है। आनुवंशिक डीएनए प्रोस्टेट कैंसर होने का सबसे प्रमुख कारण है। प्रोस्टेट ग्लैंड यूरीनरी ब्लैडर के पास होता है। इस ग्रंथि से निकलने वाला पदार्थ यौन क्रिया में सहायक बनता है। आमतौर पर उम्र बढ़ने के साथ ही प्रोस्टेट कैंसर होने की संभावना ज्यादा होती है। लेकिन आजकल की दिनचर्चा के कारण यह किसी भी उम्र के लोगों को हो सकता है। दोनों पैरों में कमजोरी ...

पूरा पढ़ें


गाय के दूध से पेट कैंसर खत्म होगा

01-07-2014

जी हाॅं! चैंकिए नहीं। गाय के दूध में पेट के कैंसर को ठीक करने की क्षमता  विद्यमान है। नेशनल इलान यूनीवर्सिटी, ताइवान के बायोटेक्नोलाजी एण्ड एनिमल साइंस डिपार्टमेंट के वाई-जंग-चेन के अनुसार गाय के   दूध से पेट के कैंसर (गैस्टिक कैंसर) का इलाज निकट भविष्य में संभव है। शोध से संबंधित ताइवान के वैज्ञानिकों का कहना है कि गाय के दूध में लैक्टोफैरीसिन बी 25 नामक पेप्टाइड मौजूद होता है। इसे संक्षेप में एलएफसिन 25 भी कहते हैं। इसे पेप्टाइड में मानव शरीर में होने वाल...

पूरा पढ़ें


1 2 3    NEXT  Total Number Of Pages is:3
 

भारत के समाचार पत्रों के पंजीयक कार्यालय की पंजीयन संख्या( आर. एन. आर्इ. नं.) : 7087498, डाक पंजीयन : छ.ग./ रायपुर संभाग / 26 / 2012-14
संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, संयुक्त संपादक - रविन्द्र गिन्नौरे, सह संपादक - उत्तम सिंह गहरवार, सलाहकार - डा. सुरेन्द्र पाठक, महाप्रबंधक - राजकुमार शुक्ला, विज्ञापन एवं प्रसार - देवराज सिंह चौहान, लेआउट एवं डिजाइनिंग -उत्तम सिंह गहरवार, विकाष ठाकुर
स्वामित्व, मुद्रक एवं प्रकाषक : एनवायरमेंट एनर्जी फाउडेषन, 28 कालेज रोड, चौबे कालोनी, रायपुर (छ.ग.) के स्वामित्व में प्रकाषित, महावीर आफसेट प्रिंटर्स, रायपुर से मुदि्रत, संपादक - ललित कुमार सिंघानिया, 205, समता कालोनी, रायपुर रायपुर (छ.ग.)

COPYRIGHT © BY PARYAVARAN URJA TIMES
DEVELOPED BY CREATIVE IT MEDIA